Ahoi Ashtami ki Katha Lyrics in Hindi - अहोई अष्टमी व्रत

Ahoi Ashatami Vrat Katha In Hindi: अहोई अष्टमी व्रत 

ये व्रत महिलाओं के लिए बेहद खास होता है। क्योंकि अहोई अष्टमी व्रत संतान की लंबी उम्र और खुशहाल जीवन की कामना से रखा जाता है। 

इस दिन अहोई माता का चित्र बनाकर उनकी पूजा की जाती है और फिर शाम के समय तारों को अर्घ्य दिया जाता है। लेकिन इस व्रत में जो चीज सबसे ज्यादा जरूरी होती है वो है इस व्रत की पावन कथा।

प्राचीन काल में किसी गांव में एक साहुकार रहता था। उसके सात पुत्र और एक पुत्री थी। 

साहुकार ने अपने सभी बेटों और बेटी की शादी कर दी थी। हर साल दिवाली के समय साहूकार की बेटी अपने मायके आती थी। 

एक समय दिवाली पर घर की लीपापोती के लिए साहुकार की सभी सातों बहुएं जंगल से मिट्टी लेने जा रही थीं। उन्हें जाता देख साहुकार की बेटी भी उनके साथ चल पड़ी। 

साहूकार की बेटी जंगल पहुंच कर मिट्टी खोदने लगी, उस स्थान पर एक स्याहु (साही) अपने पुत्रों के साथ रहती थी। 

साहूकार की बेटी से मिट्टी काटते समय कुदाल स्याहु के एक बच्चे को लग गई जिससे उसका एक बच्चा मर गया। इसपर स्याहु ने क्रोधित होकर कहा कि जिस तरह तुमने मेरे बच्चे को मार डाला, मैं भी तुम्हारी कोख बांधूंगी।

स्याहु की बात सुनकर साहूकार की बेटी अपनी सातों भाभियों से विनती करने लगी कि वे उसके बदले अपनी कोख बंधवा ले। 

नन्द की विनती सुनकर उसकी सबसे छोटी भाभी तैयार हुई और अपनी नन्द के बदले उसने अपनी कोख बंधवा ली। ऐसा करने के बाद छोटी भाभी के जो भी बच्चे होते हैं, वे सात दिन के बाद ही मर जाते। 

अपने सात पुत्रों की मृत्यु का सोचकर वह बहुत दुखी हुई और उसने पंडित को बुलवाकर इसका कारण पूछा।

पंडित ने उसकी व्यथा सुनकर उसे सुरही गाय की सेवा करने की सलाह दी। सुरही गाय, छोटी बहु की सेवा से प्रसन्न हुई और उससे पूछती है कि तू किस लिए मेरी इतनी सेवा कर रही है और मुझसे क्या चाहती है? 

साहूकार की छोटी बहु ने सुरही गाय को बताया कि स्याहु माता ने उसकी कोख बांध दी है जिसके चलते जब भी वो किसी बच्चे को जन्म देती वो सात दिनों के अंदर ही मर जाते हैं। अगर आप मेरी कोख खुलवा दें तो मैं आपका बहुत उपकार मानूंगी।

सुरही गाय उसकी बात मान कर उसे स्याहु माता के पास ले जाने लगी। रास्ते में दोनों थक जाने पर आराम करने लगती हैं। 

तभी अचानक साहूकार की छोटी बहू देखती है, कि एक सांप गरूड़ पंखनी के बच्चे को डंसने जा रहा होता है। ऐसा देख वो उस बच्चे को बचाने के लिए सांप को ही मार डालती है। 

जब गरूड़ पंखनी वहां खून बिखरा हुआ देखती है, तो उसे लगता है कि छोटी बहू ने उसके बच्चे को मार दिया है। अपने बच्चे की मौत का हत्यारा समझ वह छोटी बहू को चोंच मारना शुरू कर देती है।

छोटी बहू उसे समझाती है कि वो खून एक सांप का है, जिसे मैंने तुम्हारे बच्चे की जान बचाने के लिए मारा है। यह सुनकर गरूड पंखनी प्रसन्न हुई और उससे बोली कि माँग तू क्या माँगती है? 

वह बोली कृप्या आप मुझे सात समुद्र पर स्याऊ माता के पास पहुचा दें। गरूड़ पंखनी ने दोनो को अपनी पीठ पर बैठाकर स्याऊ माता के पास पहुचां दिया। स्याऊ माता उन्हें देखकर बोली कि बहन बहुत दिनो बाद आई, फिर कहने लगी कि बहन मेरे सिर में जूँ पड गई हैं। तब सुरही के कहने पर साहुकार की बहु ने सलाई से उनकी जुएँ निकाल दी।

इस पर स्याऊ माता प्रसन्न हो गईं और कहने लगीं कि तुने मेरे सिर मे बहुत सलाई डाली हैं इसलिये तेरे सात बेटे और बहु होगी। वह बोली मेरे तो एक भी बेटा नहीं है सात बेटा कहाँ से होंगे। 

स्याऊ माता बोली- वचन दिया, वचन से फिरूँ तो धोबी कुण्ड पर कंकरी होऊँ। जब साहुकार की बहु बोली मेरी कोख तो तुम्हारे पास बन्द पड़ी है ये सुनकर स्याऊ माता बोली कि तुने मुझे बहुत ठग लिया, मैं तेरी कोख खोलती जो नहीं परन्तु अब खोलनी पड़ेगी।

जा तेरे घर तुझे सात बेटे और सात बहुएं मिलेंगी तू जाकर उजमन करियो। सात अहोई बनाकर सात कढ़ाई करियो। वह लौटकर घर आई तो देखा सात बेटे सात बहुएं बैठी हैं वह खुश हो गई। 

फिर उसने सात अहोई बनाई, साज उजमन किए तथा सात कढ़ाई की। रात्रि के समय जेठानियाँ आपस मे कहने लगीं कि जल्दी-जल्दी नहाकर पूजा कर लो, कहीं छोटी बच्चों को याद करके रोने न लगे।

जब जेठानियों को साहुकार की छोटी बहू के रोने की आवाज नहीं आई तो थोड़ी देर में उन्होंने अपने बच्चों से कहा कि अपनी चाची के घर जाकर देखकर आओ कि वो आज अभी तक रोई क्यों नहीं। 

बच्चों ने जाकर कहा कि चाची तो कुछ माडँ रही हैं खूब उजमन हो रहा है। यह सुनते ही जेठानियां दौड़ी-दौड़ी उसके घर आईं और जाकर कहने लगीं कि तूने कोख कैसे छुड़ाई? वह बोली तुमने तो कोख बधाई नहीं सो मैने कोख खोल दी है। 

इस तरह स्याहु के आशीर्वाद से साहुकार की सबसे छोटी बहू का घर फिर से हरा-भरा हो गया। अहोई का एक अर्थ यह भी होता है ‘अनहोनी को होनी बनाना’। जैसे साहूकार की छोटी बहू ने अनहोनी को होनी कर दिखाया। तभी से अहोई अष्टमी का व्रत करने की परंपरा चली।



Credit:

Song: Ahoi Ashtami ki Katha
Music:
Lyrics: 
Singer:

For more songs Beautiful Song Lyrics

Tags:

Ahoi Ashtami ki Katha Lyrics in Hindi,Ahoi Ashtami ki Katha in Hindi,Ahoi Ashtami ki Katha Lyrics Hindi,ahoi ashtami vrat katha,ahoi ashtami vrat katha 2022,shri ahoi ashtami vrat katha,ahoi ashtami vrat katha images,ahoi ashtami vrat katha in hindi pdf,ahoi ashtami vrat katha pdf,ahoi ashtami vrat katha ganesh ji,
ahoi ashtami vrat katha pdf download,ahoi ashtami vrat katha aarti,ahoi ashtami vrat katha in english,ahoi ashtami vrat katha audio,ahoi ashtami vrat katha in hindi audio,ashtami vrat katha ahoi ashtami 2020,
ahoi ashtami vrat date,ahoi ashtami vrat katha book,ahoi ashtami vrat katha book buy,ahoi ashtami vrat katha book pdf,ahoi ashtami vrat katha by,ahoi ashtami vrat katha book review,ahoi ashtami vrat katha book online,ahoi ashtami katha in english,brihaspativar vrat katha aaj tak,ahoi ashtami story english,
ahoi ashtami vrat katha canton,ahoi ashtami vrat katha columbus ohio,ahoi ashtami vrat katha columbus,ahoi ashtami vrat katha canton ma,
ahoi ashtami vrat katha cast,ahoi ashtami vrat katha chitram,ahoi ashtami vrat katha chitram cast,ashtami ahoi vrat katha,katha of ahoi ashtami,ahoi ashtami vrat katha mp3 download,ahoi ashtami vrat katha full,ahoi ashtami ki ganesh katha,ahoi ashtami ganesh vrat katha,ahoi ashtami vrat katha hindi,
ahoi ashtami vrat katha in hindi aarti,ahoi ashtami vrat katha in hindi youtube,ahoi ashtami vrat katha in hindi video,ahoi ashtami vrat vidhi katha in hindi,ahoi ashtami ki vrat katha in hindi pdf,ahoi ashtami ki katha lyrics in hindi,ahoi mata vrat katha hindi,
ahoi ashtami mata vrat katha in hindi,ahoi ashtami vrat katha in punjabi,ahoi ashtami vrat katha kahani,ahoi ashtami ki katha ka time,ahoi ashtami ki katha kahani,ahoi ashtami ki vrat katha,ahoi ashtami vrat katha ganesh ji ki,ahoi ashtami vrat katha lyrics,
ahoi ashtami ki katha hindi mein,ahoi mata ashtami vrat katha,ahoi ashtami vrat katha ne,ahoi ashtami vrat katha newark,ahoi ashtami vrat katha number,ahoi ashtami vrat katha new,ahoi ashtami vrat katha na,ahoi ashtami vrat katha netflix,
ahoi ashtami vrat katha nayagan,ahoi ashtami 2021 india,ahoi ashtami vrat katha online,ahoi ashtami vrat katha on youtube,ahoi ashtami vrat katha od,ahoi ashtami vrat katha outcome,ahoi ashtami vrat katha on,ahoi ashtami vrat katha online reading free,ahoi ashtami vrat katha online free,jai ahoi mata aarti,ahoi ashtami vrat katha video,
ahoi ashtami vrat katha punjabi,ahoi ashtami ki puri katha,ahoi ashtami vrat katha quotes,ahoi ashtami vrat katha questions,ahoi ashtami vrat katha quick,ahoi ashtami vrat katha reddit,ahoi ashtami vrat katha results,ahoi ashtami vrat katha record,
ahoi ashtami vrat katha release,ahoi ashtami vrat katha review,ahoi ashtami vrat katha real life,ahoi ashtami vrat katha real characters,ahoi ashtami ki katha sunaeye,ahoi ashtami vrat katha time,ahoi ashtami vrat katha update,ahoi ashtami vrat katha ud,
ahoi ashtami vrat katha us,ahoi ashtami vrat katha user,ahoi ashtami vrat katha ubd,ahoi ashtami vrat katha upanishad,ahoi ashtami vrat katha upanishad pdf,ahoi ashtami vrat katha upanishad summary,ahoi ashtami katha youtube,ahoi ashtami katha hindi,
ahoi ashtami vrat katha vidhi,ahoi ashtami ki katha video,ahoi ashtami vrat katha winner,ahoi ashtami vrat katha world,ahoi ashtami vrat katha watch,ahoi ashtami vrat katha west,ahoi ashtami vrat katha wiki,ahoi ashtami vrat katha written,
ahoi mata katha in english,ahoi ashtami vrat katha xm,ahoi ashtami vrat katha xavier,ahoi ashtami vrat katha xi,ahoi ashtami vrat katha xl,ahoi ashtami vrat katha xp,holi ashtami ka vrat,ahoi ashtami ka vrat,ahoi ashtami vrat katha youtube,
ahoi ashtami vrat katha zoom,ahoi ashtami vrat katha zero,ahoi ashtami vrat katha zip,ahoi ashtami vrat katha zachary,ahoi ashtami vrat katha 09,ahoi ashtami vrat katha 08,ahoi ashtami vrat katha 07,ahoi ashtami vrat katha 06,ahoi ashtami vrat katha 02,
ahoi ashtami vrat katha 10,ahoi ashtami vrat katha 108,ahoi katha in english,ahoi ashtami vrat katha 2021,ahoi ashtami ki katha 2,ahoi ashtami vrat katha time 2021,ahoi ashtami 2021 vrat katha,ahoi ashtami vrat katha 30,ahoi ashtami vrat katha 36,
ahoi ashtami vrat katha 300,ahoi ashtami vrat katha 30 minutes,ahoi ashtami vrat katha 32,katha ahoi ashtami,ahoi ashtami vrat katha 40,ahoi ashtami vrat katha 42,ahoi ashtami vrat katha 48,ahoi ashtami vrat katha 45,ahoi ashtami vrat katha 50,ahoi ashtami vrat katha 500,ahoi ashtami vrat katha 53,ahoi ashtami vrat katha 59,ahoi ashtami
Next Song Previous Song