Mere Mehboob Tujhe Lyrics - मेरे मेहबूब तुझे मेरी मोहब्बत की कसम

Mere Mehboob Tujhe Lyrics - मेरे मेहबूब तुझे मेरी मोहब्बत की कसम

मेरे मेहबूब तुझे मेरी मोहब्बत की कसम
फिर मुझे नर्गिसी आँखों का सहारा दे दे
मेरा खोया हुआ रंगीन नज़ारा दे दे

ऐ मेरे ख़्वाब की ताबिर, मेरी जान-ए-ग़ज़ल
ज़िन्दगी मेरी तुझे याद किए जाती है
रात दिन मुझ को सताता है तसव्वुर तेरा
दिल की धड़कन तुझे आवाज़ दिए जाती है
आ मुझे अपनी सदाओं का सहारा दे दे

भूल सकती नहीं आँखें वो सुहाना मंज़र
जब तेरा हुस्न मेरे इश्क़ से टकराया था
और फिर राह में बिखरे थे हज़ारों नग्में
मैं वो नग्में तेरी आवाज़ को दे आया था
साज-ए-दिल को उन्ही गीतों का सहारा दे दे

याद है मुझको मेरी उम्र की पहली वो घड़ी
तेरी आँखों से कोई जाम पिया था मैने
मेरी रग-रग में कोई बर्क़ सी लहराई थी
जब तेरे मर्मरी हाथों को छुआ था मैने
आ मुझे फिर उन्हीं हाथों का सहारा दे दे

मैने एक बार तेरी एक झलक देखी है
मेरी हसरत है के मैं फिर तेरा दीदार करूँ
तेरे साए को समझ कर मैं हसीं ताजमहल
चाँदनी रात में नज़रों से तुझे प्यार करूँ
अपनी महकी हुई ज़ुल्फ़ों का सहारा दे दे

ढूंढता हूँ तुझे हर राह में हर महफील में
थक गये है मेरी मजबूर तमन्ना के कदम
आज का दिन मेरी उम्मीद का है आख़री दिन
कल ना जाने मैं कहाँ और कहाँ तू हो सनम
दो घड़ी अपनी निगाहों का सहारा दे दे

सामने आ के ज़रा परदा उठा दे रुख़ से
एक यही मेरा इलाज-ए-ग़म-ए-तनहाई है
तेरी फ़ुर्क़त ने परेशान किया है मुझको
अब तो मिल जा के मेरी जान पे बन आई है
दिल को भूली हुई यादों का सहारा दे दे

लता मंगेशकर
(मेरे मेहबूब तुझे मेरी मोहब्बत की कसम
फिर मुझे नर्गिसी आँखों का सहारा दे दे
मेरा खोया हुआ रंगीन नज़ारा दे दे

ऐ मेरे ख़्वाब की ताबिर, मेरी जान-ए-ग़ज़ल
ज़िन्दगी मेरी तुझे याद किए जाती है
रात दिन मुझ को सताता है तसव्वुर तेरा
दिल की धड़कन तुझे आवाज़ दिए जाती है
आ मुझे अपनी सदाओं का सहारा दे दे

याद है मुझको मेरी उम्र की पहली वो घड़ी
तेरी आँखों से कोई जाम पिया था मैने
मेरी रग-रग में कोई बर्क़ सी लहराई थी
जब तेरे मर्मरी हाथों को छुआ था मैने
आ मुझे फिर उन्हीं हाथों का सहारा दे दे

सामने आ के ज़रा परदा उठा दे रुख़ से
एक यही मेरा इलाज-ए-ग़म-ए-तनहाई है
तेरी फ़ुर्क़त ने परेशान किया है मुझको
अब तो मिल जा के मेरी जान पे बन आई है
दिल को भूली हुई यादों का सहारा दे दे)


Mere Mehbub Tujhe lyrics in English

Mere mehboob tujhe meri mohabbat ki kasam
Fir mujhe nargisi ankhon ka sahara de de
Mera khoya hua rangin najara de de

Ai mere khwab ki taabir, meri jaan-e-gjl
Zindagi meri tujhe yaad kiye jaati hai
Raat din mujh ko satata hai tasawwur tera
Dil ki dhadkan tujhe awaaj diye jaati hai
Aa mujhe apni sadaaon ka sahaara de de

Bhul sakti nahi ankhe wo suhana manzar
Jab tera husn mere ishq se takaraya tha
Aur fir raah me bikhare the hajaaro nagme
Main wo nagme teri awaaj ko de aaya tha
Saaj-e-dil ko unhi gito ka sahara de de

Yaad hai mujhko meri umr ki pahli wo ghadi
Teri ankhon se koi jaam piya tha maine
Meri rag-rag me koi barq si laharai thi
Jab tere marmari haatho ko chhua tha maine
A mujhe fir unhi haatho ka sahaara de de

Maine ek baar teri ek jhalak dekhi hai
Meri hasrat hai ke main fir tera didar karu
Tere saaye ko samajh kar main hasin taj mahal
Chandani raat me najron se tujhe pyaar karu
Apni mahki hui zulfon ka sahaara de de

Dhundhata hun tujhe har raah me har mahfil me
Thak gaye hai meri majbur tamanna ke kadam
Aaj ka din meri ummid ka hai akhari din
Kal na jaane main kahaan aur kahaan tu ho sanam
Do ghadi apni nigaahon ka sahaara de de

Saamane aa ke jara parda uthha de rukh se
Ek yahi mera ilaaj-e-gam-e-tanahaai hai
Teri furqat ne pareshan kiya hai mujhko
Ab to mil jaa ke meri jaan pe ban aai hai
Dil ko bhuli hui yaadon ka sahaara de de

Lata mangeshakar
(mere mehboob tujhe meri mohabbat ki kasam
Fir mujhe nargisi ankho ka sahara de de
Mera khoya hua rangin najara de de

Aai mere khwaab ki taabir, meri jaan-e-gjl
Zindagi meri tujhe yaad kie jaati hai
Raat din mujh ko sataata hai tasawwur tera
Dil ki dhadkan tujhe awaaj diye jati hai
A mujhe apni sadaao ka sahara de de

Yaad hai mujhako meri umr ki pahali wo ghadi
Teri ankhon se koi jaam piya tha maine
Meri rag-rag me koi barq si laharai thi
Jab tere marmari haatho ko chhua tha maine
A mujhe fir unhi haathon ka sahaara de de

Saamne aa ke jara parda uthha de rukh se
Ek yahi mera ilaaj-e-gam-e-tanahaai hai
Teri furqat ne pareshaan kiya hai mujhako
Ab to mil ja ke meri jaan pe ban ai hai
Dil ko bhuli hui yaadon ka sahaara de de)

Credit:

Lyricist: Shakeel Badayuni
Singer: Mohammad Rafi
Music Director: Naushad
Movie: Mere Mehboob (1963)

For more songs Beautiful Song Lyrics

Tags:

Mere Mehboob Tujhe Lyrics - मेरे मेहबूब तुझे मेरी मोहब्बत की कसम, Hindi old Songs, Beautiful Song Lyrics.

The song "Mere Mehboob Tujhe Mere Mahobbat ki Kasam" is written by Shakeel badayuni and music is composed by Naushad in the film Mere Mehboob (1963). Important to know that the song was sung by Mohammad Rafi.
Next Lyrics Previous Lyrics